Nita Ambani Hails Jasprit Bumrah; Chairperson of Reliance Foundation Shares Jasprit Bumrah Struggle Story | नीता अंबानी ने कहा- बुमराह युवाओं के लिए प्रेरणा; जसप्रीत का एक वीडियो भी शेयर किया

0
10


  • वीडियो में बुमराह की मां बताती हैं कि एक वक्त जसप्रीत के पास अच्छे जूते और टी-शर्ट भी नहीं थी
  • लंदन में हुए रिलायंस फाउंडेशन के कार्यक्रम में नीता ने कुछ और खिलाड़ियों का भी जिक्र किया

Dainik Bhaskar

Oct 09, 2019, 04:55 PM IST

खेल डेस्क. रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी ने टीम इंडिया के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को युवाओं के लिए प्रेरणास्रोत बताया है। लंदन में फाउंडेशन के एक कार्यक्रम के दौरान नीता ने बुमराह और उनकी मां दलजीत का वीडियो भी शेयर किया। इसमें दोनों अपने कठिन वक्त को याद करते नजर आते हैं। आईपीएल में यह तेज गेंदबाज मुंबई इंडियंस से खेलता है। यह रिलायंस इंडस्ट्रीज की ही टीम है। 

 

खेल एक महान शिक्षक है
इस कार्यक्रम में नीता ने कहा, “एक छोटे से शहर से मुंबई इंडियंस ने बुमराह को तलाशा। यह कमाल का सफर रहा। आज वो अनगिनत युवा लड़के और लड़कियों के लिए प्रेरणास्रोत हैं। 10 साल में मुंबई इंडियंस ने हार्दिक और क्रुणाल पंड्या जैसे क्रिकेटर्स भी तलाशे और तराशे। खेल एक महान शिक्षक है।”

महिला शक्ति का भी जिक्र 
इस साल देश की महिला खिलाड़ियों ने भी शानदार उपलब्धियां प्राप्त की हैं। शटलर पीवी सिंधू ने वर्ल्ड बैडमिंटन चैम्पियनशिप जीती। पैरा बैडमिंटन में मानसी जोशी ने गोल्ड जीता। मैरीकॉम ने बॉक्सिंग में सफलता हासिल की। इनका जिक्र करते हुए नीता ने कहा, “भारतीय महिलाएं सफलता के मार्ग पर अग्रसर हैं। वैसे भारत ही क्यों दुनिया के कई हिस्सों में महिलाएं स्पोर्ट्स, साइंस, बॉलीवुडसे लेकर हॉलीवुड तक सफलता के झंडे गाढ़ रही हैं।” 

 

बुमराह के वीडियो में क्या?
नीता ने जसप्रीत और उनकी मां दलजीत का एक छोटा वीडियो भी शेयर किया। इसमें दलजीत कहती हैं- मैं जब जसप्रीत से सोने को कहती थी तो वो मुझे बहुत परेशान करता था। इसने गेंद की वजह से मुझे बहुत परेशान किया है। जब ये सिर्फ पांच साल का था तब मैंने पति (बुमराह के पिता) को खो दिया। इसके बाद जसप्रीत कहते हैं- पिता के निधन के बाद हम तंगी में आ गए। मेरे पास एक जोड़ी साधारण जूते और एक ही टी-शर्ट थी। उनको ही धोकर इस्तेमाल करता रहता था। एक बच्चे के तौर पर आप ऐसी कई कहानियां सुनते हैं। लेकिन, मेरे साथ यह सब हकीकत में हुआ। फिर दलजीत कहती हैं- पहली बार जब मैंने इसे टीवी पर आईपीएल खेलते देखा तो खुशी की वजह से मेरे आंसू थम नहीं रहे थे। उसने मुझे शारीरिक और आर्थिक तौर पर संघर्ष करते देखा है। जसप्रीत कहते हैं- मुश्किलें ही तो मजबूत बनाती हैं। क्योंकि आप मुश्किल वक्त गुजार चुके हैं। इसलिए दिक्कत नहीं होती। 




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here